समग्र शिक्षा अभियान : खाली 370 पदों पर उपनल के बजाय पीआरडी के माध्यम से रखे जाएंगे कर्मचारी

देहरादून, उत्तराखंड़ शिक्षा विभाग में समग्र शिक्षा अभियान के तहत प्रदेश में डाटा एंट्री ऑपरेटर, अकाउंट क्लर्क एवं लेखाकार कम सपोर्ट स्टाफ सहित विभिन्न 370 खाली पदों पर उपनल के बजाय पीआरडी के माध्यम से कर्मचारी रखे जाएंगे। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम की ओर से इस संबंध में कार्रवाई के लिए आदेश जारी किया गया है। इन समस्त कर्मचारियों को दैनिक मानदेय के आधार पर रखा जाएगा।

उत्तराखण्ड़ में शिक्षा विभाग के अधीन संचालित समग्र शिक्षा अभियान केंद्र पोषित योजना है। जिसमें राज्य सरकार की ओर से आउटसोर्सिंग के पद सृजित किए गए हैं, लेकिन इन पदों को प्रांतीय रक्षक दल (पीआरडी) के आउटसोर्सिंग एजेंसी न होने के बावजूद उसके माध्यम से भरा रहा है। जिसमें अकाउंट क्लर्क के चार, लेखाकार कम सपोर्ट स्टाफ 331, डाटा एंट्री ऑपरेटरों के 15 और चपरासी के 20 पद शामिल हैं। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक विभाग में चमोली, चंपावत, बागेश्वर, रुद्रप्रयाग, ऊधमसिंह नगर, नैनीताल, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, हरिद्वार आदि सभी 13 जिलों में खाली पदों पर कर्मचारियों की तैनाती होनी है। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि समग्र शिक्षा अभियान के तहत आउटसोर्सिंग के खाली पदों को पीआरडी के माध्यम से भरने का निर्णय लिया गया है।

आदेश में कहा गया है कि युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल आउटसोसिंग एजेंसी न होने की वजह से आउटसोर्स की अनुमति दिया जाना संभव नहीं है। इन पदों पर पीआरडी के माध्यम से दैनिक मानदेय के आधार पर कर्मचारियों की तैनाती की कार्रवाई की जाए। इन जिलों में भरे जाने हैं इतने पद
चमोली जिले में अकाउंट क्लर्क, डाटा एंट्री ऑपरेटर व चपरासी के 27, चंपावत में 14, बागेश्वर में 15, रुद्रप्रयाग में 15, ऊधमसिंह नगर में 22, नैनीताल में 27, अल्मोड़ा में 35, पिथौरागढ़ में 30, हरिद्वार में 19, टिहरी में 38, पौड़ी में 41, देहरादून में 25 एवं उत्तरकाशी में 23 पदों को पीआरडी के माध्यम से भरने के आदेश हुए हैं