दिल्ली से कोटद्वार के लिये चला प्रवासी, राज्य की सीमा में पहुंचते ही मिला मृत

पौड़ी (कोटद्वार), कोविड-19 के दौरान दिल्ली से अपने घर कोटद्वार में आने के लिए टैक्सी बुक कर आ रहा प्रवासी उत्तराखण्ड की सीमा पर स्थित कोरोना जांच पोस्ट कौड़िया में मृत पाया गया। जिससे जांच चौकी सहित टैक्सी चालक में दहशत फैल गई। कौड़िया चेक पोस्ट पर जांच के लिए पहुंचे टैक्सी चालक व मृतक का स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल ले लिया है और चालक को क्वारंटाइन किया जा रहा है। जबकि मौत के स्पष्ट कारणों के लिए मृतक के शव का पोस्टमार्टम किया गया। परिजनों ने मुक्तिधाम कोटद्वार में अंतिम संस्कार किया।
प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने बताया कि धूरा धुनई, नाथूखाल पौखाल दुगड्डा ब्लॉक निवासी 45 वर्षीय भगवान सिंह पुत्र दयाल सिंह दिल्ली में कैलाश कॉलोनी के एक होटल में नौकरी करता था। बुधवार सुबह को वह टैक्सी बुक करवाकर अपने घर के लिए निकला। इस दौरान टैक्सी में भगवान सिंह और चालक ही मौजूद था। सुबह करीब 11 बजे वह कौड़िया चेक पोस्ट पर पहुंचे। कौड़िया चेक पोस्ट पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें जांच कराने को कहा। टैक्सी चालक ने जब उसे जांच के लिए गाड़ी से उतरने के लिए कहा तो वह नहीं उठा और वह बेहोशी की हालत था। जिस पर चालक ने वहां पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों को जानकारी दी। स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे राजकीय बेस अस्पताल ले जाने को कहा। जिस पर टैक्सी चालक भगवान सिंह को लेकर बेस अस्पताल पहुंचा। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्रवासी की मौत के बाद स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। सूचना पर प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी, नायाब तहसीलदार राजेन्द्र प्रसाद ममगांई, नायाब तहसीलदार आरपी पंत बेस अस्पताल पहुंचे। प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने मृतक के परिजनों व टैक्सी चालक से घटना के बारे में जानकारी ली। वाहन चालक दिल्ली निवासी रविन्द्र ने बताया कि वह दिल्ली से सुबह करीब साढ़े 6 बजे कोटद्वार के लिए निकले थे। भगवान सिंह रूड़की हरिद्वार तक बिल्कुल ठीक था। जब उन्होंने कौड़िया चेक पोस्ट पर उसे उतरने को कहा तो वह कुछ नहीं बोला। प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने मृतक की पत्नी से मिली जानकारी के अनुसार बताया कि भगवान सिंह ने फोन कर बताया था कि उसे पिछले तीन-चार दिन से हल्का बुखार और खांसी है। प्रभारी तहसीलदार ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम कराया गया। मृतक का सैंपल लेकर कोरोना जांच के लिए भेज दिया है। मौत के स्पष्ट कारण के बारे में मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही कहा जा सकता है। उन्होंने बताया कि वाहन चालक का सैंपल लेकर भी कोरोना जांच के लिए भेज दिया गया है। एसएसआई प्रदीन नेगी ने बताया कि मृतक का शव का पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा दिया गया।