कुमाऊं के 10 हिल स्टेशनों में पारा दस डिग्री से नीचे

9

हल्द्वानी।कुमाऊं में इस बार कड़ाके की सर्दी के आसार हैं। स्थिति ये है कि दिसंबर के पहले हफ्ते में ही मंडल के 10 बड़े हिल स्टेशनों का पारा 10 डिग्री से भी नीचे चला गया है। अल्मोड़ा के बिनसर में पारा माइनस दो डिग्री तो रानीखेत और जागेश्वर में 1-1 डिग्री के आसपास झूल रहा है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक आने वाले दिनों में ठंड और बढ़ेगी। पर्वतीय इलाकों में इस बार बेहतर हिमपात के आसार हैं। कुमाऊं में इस बार मानसून अक्टूबर तक सक्रिय रहने के बाद ठंड भी लंबे वक्त तक खिंच सकती है। बीते हफ्ते पहाड़ से मैदान तक पड़ी बारिश के बाद कुमाऊं के पर्वतीय इलाकों में कड़ाके की सर्दी पड़ने लगी है। मंगलवार को सबसे ठंडा अल्मोड़ा का बिनसर रहा, जहां न्यूनतम तापमान माइनस 2 डिग्री दर्ज किया गया तो रानीखेत-जागेश्वर में सिर्फ 1-1 डिग्री तापमान ने लोगों के हाड़कंपा दिए।

बागेश्वर जिला मुख्यालय में न्यूनतम सात डिग्री तापमान रहा। यहीं कपकोट में नौ तो कौसानी में न्यूनतम पारा सात डिग्री दर्ज किया गया। अलबत्ता हिमपात वाले इलाके मुनस्यारी में दस डिग्री तो पिथौरागढ़ में नौ डिग्री तापमान दर्ज किया गया। आपदा कंट्रोल रूम के अनुसार पिथौरागढ़ और मुनस्यारी का तापमान लगभग बराबर रहा है। इसी तरह चम्पावत जिले के पर्वतीय हिस्से में न्यूनतम तापमान छह डिग्री और अधिकतम तापमान 16 दर्ज किया गया है। सरोवर नगरी नैनीताल में शहर का न्यूनतम पारा 7 डिग्री जबकि पर्यटन क्षेत्र मुक्तेश्वर में न्यूनतम पारा तीन डिग्री पारा दर्ज किया गया। रुद्रपुर में तीन दिसंबर का न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यहां करीब 15 साल बाद इतना पारा गिरा है। हालांकि दिन में धूप आदि निकलने से अधिकतम तापमान 22.1 डिग्री तक पहुंचा। इस दौरान तड़के से सुबह साढ़े 9 बजे तक घना कोहरा छाया रहा।

कुमाऊं के दस हिल स्टेशनों का तापमान :-

हिल स्टेशन………. अधिकतम………. न्यूनतम
पिथौरागढ़ 14 09
मुनस्यारी 14 10
अल्मोड़ा 17 06
बिनसर 11 -2
रानीखेत 14 01
जागेश्वर 14 01
कौसानी 18 07
चम्पावत 16 06
मुक्तेश्वर 13 03
नैनीताल 16 07