“माननीय शिक्षा मंत्री डॉ निशंक ने किया ’भारत की नई शिक्षा नीति नवयुग का अभिनंदन’ नाम की पुस्तक का विमोचन”

 

देहरादून, केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने आज यहाँ पर ऑनलाइन कार्यक्रम के दौरान नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जुड़ी पीआरएसआई चैप्टर देहरादून की पुस्तक, ‘भारत की नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 नवयुग का अभिनंदन’, का विमोचन किया. इस मौके पर पीआरएसआई, देहरादून(उत्तराखंड )के अध्यक्ष श्री अमित पोखरियाल और सचिव श्री अनिल सती और विशेष सदस्य श्री आकाश शर्मा के अलावा डा. अजीत पाठक केन्द्रीय अध्यक्ष, निवेदता बैनर्जी, महासचिव व कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे.

 

दरअसल ‘भारत की नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 नवयुग का अभिनंदन’ नई शिक्षा नीति पर एक बेहतरीन डाक्यूमेंट है, जिसमें सरकार का शिक्षा को लेकर आने वाले दिनों में नए विजन की चर्चा की गई है. इस पुस्तक में शिक्षा के क्षेत्र में देश की दशा और दिशा को बेहतरीन तरीके से बताया गया है.

 

इस पुस्तक में देशभर के गणमान्य लेखकों और शिक्षाविदों के विचार समाहित किए गए हैं. इस पुस्तक में कई विश्वविद्यालय के कुलपतियों, शिक्षकों और शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लेखों को शामिल किया गया हैं. माननीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि ये किताब नई शिक्षा नीति को नया आयाम देने में काफी मददगार साबित होगी. उन्होनें कहा, “इसमें नवाचार और नवयुग में शिक्षा की नई सोच को दर्शाया गया है. पुस्तक काफी विस्तृत है और गहन रिसर्च के बाद लोगों को समर्पित की जा रही है.”

जैसा कि उत्तराखंड को देवभूमि कहा गया है और प्राचीन काल से ही शिक्षा का केंद्र रहा है. ऐसे में पीआरएसआई का ये सराहनीय प्रयास है. केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय बौद्धिक संपदा के अधिकार के लिए भी पहल कर रहा है. ऐसे में ये किताब देश भर के विश्वविद्यालयों, कालेजों, संस्थानों के लिए एक बेहतरीन डॉक्यूमेंट साबित हो सकती है.