लिटरेचर फेस्टिवल की रंगारंग शुरुआत

हरिद्वार ( कुल भूषण शर्मा)  गुरूकुल कागडी विश्वविद्यालय में आज हरिद्वार लिटरेचर फैस्टीवल का शुभारम्भ हुआ जिसमें देश विदेश के साहित्यकारो ने भाग लिया। इस मौके पर जानेमानी फिल्म अभिनेत्री दीप्ती नवल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थी। तीन दिनो तक चलने वाले इस फैस्टीवल में देश के जानेमाने साहित्यकारो के साथ ही नेपाल से आये ेसाहित्यकार भी भाग ले रहे है। इस मौके पर दीप्ती नवल ने पत्रकारो से बात करते हुए कहा की वह इस आयोजन में आकर खुद को काफी अच्छा महसूस कर रही हु।


उन्होने कहा की गुरूकुल कागडी विश्विविद्यालय में आयोजित यह आयोजन एक सुखद व रचनात्मक पहल है इससे युवा साहित्याकारो रंगमंच के कलाकारो प्लेटफार्म अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए उपलब्ध होगा जहा वह अपनी प्रतिभा को दिखा कर उसे जनता के सामने प्रस्तुत कर सकेगें।
इस मौके पर महाराष्ट्र के अमरावती जिले के ताढेगांव से आये जाने माने साहित्यकार लक्ष्मण राव ने कहा की साहित्य के प्रति लगाव होने के चलते अपनी आजीविका चाय बेचकर चलाने के बावजूद उन्होने साहित्य के क्षेत्र मे अपना एक मुकाम हासिल किया है वह बताते है की 1978 में उन्होने अपनी पुस्तक का प्रकाशन कराया जिसके लिए उन्होने अपनी जमा पूंजी जो उन्होने मकान खरीदने के लिए जमा की थी मकान न लेकर उन्होने पुस्तक का प्रकाशन कराया।

उभी तक वह विभिन्न 25 पुस्तको का प्रकाशन करा चुके है। तथा भारतीय साहित्य कला प्रकाशन के नाम से अपना प्रकाशन चला रहे है। उन्होने कहा की यदि आदमी में कला व साहित्य के प्रति लगन हो तो उसके रास्ते में कुछ परेशानी आ सकती है लेकिन व्यक्ति अपनी मंजिल को प्राप्त कर ही लेता है। साहित्य के क्षेत्र में सरकारो द्वारा किये जा रहे प्रयासो को नाकाफी बताते हुए उनका कहना है की सरकारी संस्थानो द्वारा इस क्षेत्र में काम करने वालो को सहजता से अवसर उपलब्ध नही हो पाते है जो एक चिंतन का विषय है। इस मौके पर विश्वविद्यालय की छात्राओ ने रंगारंग प्ररस्तुति प्रस्तुत की।
इस मौके पर जाने माने साहित्यकार लेखको सहित प्रो0 कपिल कपूर कार्यक्रम के संयोजक प्रो0 श्रवण कुमार शर्मा, संजय हाण्डा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 विनोद कुमार कुलसचिव प्रो0 दिनेश भटट डा0 शिवकुमार चैहान डा0 अजय मलिक प्रो0पी0एस0चैहान सहित विभिन्न गणमान्य लोग उपस्थित थे।