केन्द्र व प्रदेश सरकार की उदासीनता के चलते गयी संत सानंद की जान: प्रीतम सिंह

35

हरिद्वार ( कुलभूषण शर्मा) पूर्व प्रदेश गृहमंत्री वरिष्ठ विद्यायक व प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने आज मातृ सदन पहंुच दिवंगत संत सानंद को अपने श्रृद्वासुमन अर्पित किये तथा मातृसदन प्रमुख संत स्वामी शिवानंद महाराज से भेट की। इस मौके पर उन्होने स्वामी शिवानंद महाराज से विस्तार से गहन चर्चा तथा मंथन किया। इस मौके पर उनके साथ जयराम आश्रम के परमाध्यक्ष ब्रहमस्वरूप ब्रहमचारी महाराज पूर्व राज्यमंत्री तथा अखिल भारतीय काग्रेस पार्टी के सदस्य डा0 संजय पालीवाल महिला काग्रेस नेत्री पूनम भगत वरिष्ठ कांगे्रस नेता पुरूषोत्तम शर्मा मनोज जैन पूर्व विद्यायक रामयश  सिंह फुरकान अली सहित अनेक काग्रेसजन उपस्थित थे। इस मौके पर स्वामी शिवानंद महाराज ने सरकार व एम्स प्रशासन को घेरे में लेते हुए विभिन्न सवाल खडे किये उन्होने कहा की संत सानंद को “ाडयंत्र के तहत मारा गया है। इसके लिए वह न्यायालय में जल्द ही अपना पक्ष लेकर जायेगंे। उन्होने कहा की लम्बे समय तक आन्दोलनरत्त संत सानंद स्वस्थ्य थे लेकिन प्रशासन द्वारा उन्हे उपचार के लिए चिकित्सालय ले जाते ही उनकी मृत्यु हो गयी जो सरकार व प्रशासन की नियत को स्पष्ट करता है।
संत सानंद को श्रृद्वासुमन अर्पित करने के बाद प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष एम्स के लिए रवाना हो गये। इससे पूर्व जयराम आश्रम में पत्रकारो स वात्र्ता करते हुए संत सानंद की मौत के मुददे पर केन्द्र व प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमला बोलते हूुए उन्होने सरकार की उदासीनता के चलते गंगा पुत्र संत सानंद की असमय मौत हुयी है। उन्होने कहा की दिवगंत संत की मौत के विषय को लेकर कंागंें्रस पार्टी चुप रहने वाली नही है उन्होने गंगा मॉं के लिए अपना बलिदान दिया है। गंगा हम सभी की आस्था का केन्द्र है। इस मुददे पर काग्रेस संतो के निर्देशानुसार उनके साथ इस संघर्ष को जारी रखेगी। उन्होने भाजपा पर हमला बोलते हुूए कहा की यदि समय रहते केन्द्र व प्रदेश सरकार संत सानंद आज हमारे बीच होते ।पत्रकारो के सवालो का जवाब देते हुए प्रीतम सिंह ने कहा की कांग्रेस इस विषय पर भाजपा से जवाब लेने के लिए सडक से विद्यानसभा तक में उसे घेरने का काम करेगी। प्रेसवात्र्ता में उनके साथ पूर्व विद्यायक अम्बरीश कुमार पूर्व विद्यायक रामयश सिंह पूर्व पालिकाध्यक्ष सतपाल ब्रहमचारी प्रदीप चैधरी जयराम परमाध्यक्ष ब्रहमस्वरूपब्रहमचारी महाराज सहित विभिन्न कंाग्रेस जन उपस्थित थे।