जयमंडी बना कंटेनमेंट जोन एक साथ 36 कोरोना पॉजिटिव केश आने से मचा हड़कंप

(देवेंन्द्र चमोली)
रुद्रप्रयाग-नगरपालिका छैत्र रुद्रप्रयाग से सटे गांव बर्सू के जयमंडी तोक में एक साथ 36 लोगों के कोविड -19 संक्रमित पाए जाने से इस क्षेत्र को कंटेन्मेंट क्षेत्र घोषित किया गया है। साथ ही यहां पर आवागमन प्रतिबंधित कर दिया गया है।
जानकारी देते हुए उप जिलाधिकारी सदर वृजेश तिवारी ने बताया कि जनपद मुख्यालय की ग्राम सभा बर्सू के जयमंडी तोक में 36 कोरोना संक्रमित पाए गए है। इसके साथ ही अन्य लोगों के भी संक्रमित होने की संभावना को देखते हुए नगर क्षेत्र से जयमंडी तोक की ओर जाने वाले रास्ते, तूना-बौंठा की ओर पैदल मार्ग व जंगल तथा जयमंडी गदेरा से जयमंडी तोक की ओर जाने वाले मार्ग पर आवागमन को पूर्णतया बंद कर दिया गया है।

उप जिलाधिकारी सदर वृजेश तिवारी ने ग्राम विकास अधिकारी बर्सू को संबंधित क्षेत्र में प्रचार-प्रसार की कार्यवाही प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रुद्रप्रयाग एवं राजस्व उपनिरीक्षक पुनाड को इस क्षेत्र में आवागमन प्रतिबंधित करने, जिला पूर्ति अधिकारी को खाद्य आपूर्ति की कार्यवाही तथा अधिशासी अभियंता लोनिवि रुद्रप्रयाग को कंटेन्मेंट क्षेत्र में बैरिकेडिंग की कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।

बता दें कि जनपद में 29 अगस्त को जयमण्डी का एक युवक कोरोना संक्रमित पाया गया था जिसके पश्चात स्वास्थ्य विभाग द्वारा जयमण्डी क्षेत्र से 90 सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे गए जिसमे से 36 सैंपल पॉजिटिव आये है। सभी को स्वास्थ्य विभाग द्वारा आइसोलेशन वार्ड, कोटेश्वर में भर्ती कर दिया गया है।

कोरोना की दृष्टि से जनपद के लिये आज का दिन चिन्ता जनक रहा आज जनपद में 46 कोरोना केस आये है जिसमे से 36 केस अकेले जयमण्डी गांव से है। जिला प्रशासन की माने तो स्वास्थ्य विभाग की एक टीम कांटेक्ट ट्रेसिंग के लिए भेज दी गई है व गाँव के आस पास के लोगों के सैंपल भी टेस्ट के लिए भेजे जा रहे है। मामले की गम्भीरता को देखते हुये जिलाधिकारी ने लोगों को पूर्ण सावधानी बरतने को कहा है, उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की शंका होने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करे।