प्रदेश में धूमधाम से मनाया गया स्‍वतंत्रता दिवस, उत्तराखण्ड़ देवभूमि ही नहीं, वीर भूमि भी है : मुख्यमंत्री

31

देहरादून, । आजादी की 73वीं सलगिरह पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने परेड ग्राउंड में तिरंगा फहराया और प्रदेशवासियों को स्‍वतंत्रता दिवस व रक्षाबंधन की बधाई दी। सीएम ने स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों और सैन्‍य व अर्द्धसैन्‍य बल के शहीद जवानों को नमन किया। उन्‍होंने कहा उत्‍तराखंड देवभूमि ही नहीं, वीरभूमि भी है। उन्‍होंने घोषणा की कि सभी रिक्‍त सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती की जाएगी। वहीं, राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर राजभवन में ध्वजारोहण किया और राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। इस दौरान राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने कहा कि आइये हम सब संकल्प लें कि हम राष्ट्र की एकता और अखंडता बनाये रखने के लिए अपना शत प्रतिशत योगदान देंगे। हम भारत की खुशहाली और तरक्की के लिए अपना जीवन अर्पित करेंगे। राज्यपाल ने राजभवन के अधिकारियों-कर्मचारियों को मिष्ठान्न भी वितरित किए। इस दौरान सचिव राज्यपाल रमेश कुमार सुधांशु सहित राजभवन के सभी अधिकारी-कर्मचारी एवं सुरक्षाकर्मी उपस्थित थे। सूबे में स्‍वतंत्रता दिवस का पर्व शांतिपूर्वक मनाया गया।

इससे पहले सीएम ने कहा प्रधानमंत्री मोदी ने उत्‍तराखंड को सैन्‍यधाम की संज्ञा दी है। सीएम ने केंद्र सरकार की अनुच्‍छेद 370 के खत्‍म करने, तीन तलाक से मुक्‍ति, आतंकवादियों पर कार्रवाई, जीएसटी, आयुष्‍मान योजना, उज्‍ज्‍वला योजना और चंद्रयान 2 आदि उपलब्धियां गिनाई। इसके लिए उन्‍होंने पीएम मोदी को बधाई दी। साथ ही कहा उत्‍तराखंड बच्‍चा-बच्‍चा राष्‍ट्रहित में उनके साथ है।

सीएम ने कहा बीते दिनों हमें बीसीसीआइ से मान्‍यता मिली है, जिसका हमारे खिलाड़ी और खेल प्रेमी लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। कहा, पीएम मोदी के पांच ट्रिलियन डालर इकोनोमी के सपने को साकार करने के लिए हम सबको एकजुट होना होगा।

सीएम की घोषणाएं

-सूबे में सभी रिक्‍त सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती की जाएगी। इसकी मॉनिटरिंग के लिए कैबिनेट मंत्री की अध्‍यक्षता में टास्‍क फोर्स का गठन किया जाएगा।

-महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए मुख्‍यमंत्री महिला उद्यमिता प्रोत्‍साहन योजना शुरू की जाएगी।

-सरकार वृद्ध व्‍यक्तियों की देखभाल के लिए कानून लाने पर विचार कर रही है।

-मुख्‍यमंत्री प्रतिभा प्रोत्‍साहन योजना के तहत टॉपर 25 बच्‍चों को सभी कोर्सेज में 50 प्रतिशत फीस की स्‍कॉलरशिप दी जाएगी।

-देश को जानो योजना के तहत कक्षा 10 के टाप 25 रैंकर्स को भारत भ्रमण कराया जाएगा। ये सभी बच्‍चे सरकारी स्‍कूलों के होंगे।

-अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति आश्रम पद्धति के छात्रों के लिए भोजन भत्‍ते को 3000 रुपये प्रति माह से बढ़ाकर 4500 रुपये प्रति माह कर रहे हैं।

-राज्‍य में सर्विस सेक्‍टर को बढ़ावा देने केलिए सरकार प्रयासरत है। शीघ्र ही वेलनेस योगा, आयुर्वेद व पर्यटन पर आधारित संयुक्‍त रूप से एक समिट का आयोजन किया जाएगा।

-प्रदेश के समस्‍त स्‍कूलों में फर्नीचर, वाटर सप्‍लाई, टायलेट, कंप्‍यूटर, लाइब्रेरी और लैब की व्‍यवस्‍था 2020 तक पूरी कर ली जाएगी।

-2020 तक प्रदेश की समस्‍त प्राथमिक कृषि ऋण समितियों को कंप्‍यूटरीकृत किया जाएगा