हादसा / गैस सिलेंडर फटने से दो घर में लगी आग

विकासनगर । तहसील क्षेत्र के अंतर्गत शिलगांव खत के छजाड गांव में रविवार रात को गैस सिलेंडर फटने से दो मकान जल कर राख हो गए। एक अन्य मकान को आंशिक रूप से नुकसान हुआ है। आग में घर का सारा सामान अनाज, कपड़े आदि जल गया है। जिससे दोनों परिवारों के सामने सिर छुपाने के लिए घर व दो जून की रोटी का संकट खड़ा हो गया है। उधर आग बुझाने के दौरान दो लोग आग में बुरी तरह से झुलस गए। रविवार शाम करीब सात बजे छजाड गांव निवासी रामचंद्र के घर में खाना बन रहा था। इसी दौरान गैस सिलेंडर लीक होने के कारण सिलेंडर ने आग पकड़ ली। जिससे घर में अफरा तफरी का माहौल पैदा हो गया। देखते ही देखते सिलेंडर की आग तेजी से फैलने लगी। किसी तरह घर के लोगों ने बाहर भाग कर अपने जान बचाई। लकड़ी का मकान होने के कारण आग तेजी से फैल गयी । कुछ ही देर में पूरा मकान धू धूकर जलने लगा। इस दौरान सिलेंडर फट गया। जिससे आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। आग की लपटें पास में बबलू के घर तक पहुंच गयी। बबलू के परिवार ने भी भाग कर किसी तरह जान बचाई। रामचंद्र व बबलू का मकान पूरी तरह जलकर राख हो गये। करीब तीन घंटे तक कड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने रात दस बजे आग पर काबू पाया। इस दौरान ग्रामीणों ने दमकल विभाग को सूचना दी। दमकल विभाग की टीम गाड़ी लेकर मौके के लिए रवाना हुई। लेकिन घटना स्थल से आधा किमी दूरी पर सड़क क्षतिग्रस्त होने के कारण वाहन गांव तक नहीं पहुंच पाया। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चमन सिंह ने मौके पर पहुंचकर दोनों पीड़ित परिवारों को आर्थिक सहायता देने के साथ साथ राशन, कपड़े आदि की सहायता देकर हर संभव सहायता का आश्वासन दिया। कानूनगो केशव जोशी ने बताया कि क्षति का आकलन करने के लिए मौके पर राजस्व विभग की टीम रवाना हो गयी है। आग बुझाने के दौरान छजाड निवासी पवन व सुमन आग में झुलस गये। दोनों को पीएचसी त्यूणी उपचार के लिए पहुंचाया गया। प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. नरेंद्र राणा ने बताया कि पवन की हालत गंभीर होने के कारण हायर सेंटर रेफर किया गया। जबकि सुमन का उपचार किया जा रहा है।