कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत जनसुरक्षा हेतु जनपद अन्तर्गत मुख्य बाजारों में रहेगी, साप्ताहिक बन्दी’’: जिलाधिकारी

देहरादून ,  जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार ने अवगत कराया है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए जनसुरक्षा हित में जनपद अन्तर्गत स्थानीय बाजारों में साप्ताहिक बन्दी निर्धारित की गयी है। जिलाधिकारी ने बताया कि नगर निगम देहरादून, छावनी परिषद गढीकैन्ट व क्लेमेंटाउन क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक रविवार, नगर निगम ऋषिकेश क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक वृहस्पतिवार, नगर पालिका परिषद डोईवाला क्षेत्र के समस्त बजार प्रत्येक रविवार, नगर पालिका परिषद मसूरी क्षेत्र के समस्त बजार प्रत्येक बुधवार, विकासनगर-हरबर्टपुर तथा सहसपुर क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक शनिवार, चकराता क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक बुधवार, कालसी/साहिया क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक शनिवार एवं त्यूनी क्षेत्र के समस्त बाजार प्रत्येक रविवार बन्द रहेंगे। उक्त क्षेत्रों में साप्ताहिक बन्दी दिवसों पर वृहद् स्तर पर सेनिटाईजेशन किया जायेगा। उक्त निर्धारित साप्ताहिक बन्दी दिवसों में सम्बन्धित स्थानीय बाजार एवं उसमें अवस्थित सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठान पूर्णतः बन्द रहेंगे तथा केवल आवश्यक सेवाएं यथा दवाओं की दुकानें, फल सब्जी की दुकानें, पैट्रोल पम्प एवं गैस एजेंसियां, डेयरी, टिफिन सर्विस, बैकरी, मीट-मछली की दुकानें( जिनके पास वैध लाईसेंस हों), बेकरी ही प्रातः 07 बजे से रात्रि 8 बजे तक संचालित हो सकेंगी। साप्ताहिक बन्दी दिवस में वाहनों के आवागमन में छूट रहेगी। इस दौरान निर्माण कार्य, औद्योगिक ईकाइयों से सम्बन्धित गतिविधियां संचालित हो सकेंगी तथा प्रातः कालीन माॅर्निंग वाॅक पर यह प्रतिबन्ध लागू नही होगा।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि कोविड-19 के संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने के पश्चात ऋषिकेश क्षेत्रान्तर्गत खाण्ड गांव क्षेत्र को लाॅकडाउन किया गया था। उपरोक्त कन्टमेंन्ट क्षेत्र को  28 दिन के एक्टिव सर्विलांस के पश्चात मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा की गयी संस्तुति के उपरान्त कन्टेंमेंट जोन से मुक्त कर दिया  गया है।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत एनएफएसए तथा एएवाई परिवारों को प्रति यूनिट 05 किलोग्राम चावल तथा प्रति कार्ड 01 किलोग्राम दाल निःशुल्क वितरित की गयी। माह अप्रैल-मई-जून 2020 (तीन माह)  में उक्त परिवारों के 223147 राशनकार्ड तथा 1010468 यूनिट को 15157.02 एम0टी0 चावल तथा 669.441 एम0टी0 निःशुल्क दाल का वितरण किया गया।
जिला प्रशासन द्वारा आज जनपद के विभिन्न चयनित स्थानों पर अधिकृत 16 मोबाईल वैन के माध्यम से 131 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। दुग्ध विकास विभाग द्वारा जनपद के कन्टेंमेंट जोन क्षेत्रान्तर्गत कुल 117 ली0 दूध विक्रय किया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद विकासखण्ड विकासनगर, अन्तर्गत कुल 42 निराश्रित पशुओं जिसमें, सभी  गौवंश पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया। जनपद में विभिन्न विकासखण्डवार मनरेगा कार्याें के अन्तर्गत आतिथि तक 1560 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें 21278 श्रमिकों को सैनिटाईजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करवाते हुए उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया।
जनपद में कोरोना वायरस से संक्रमण के प्रसार को रोके जाने के दृष्टिगत सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए निबन्धन कार्यालयों में आज जन सामान्य द्वारा कुल 179 लेख पत्रों का पंजीकरण (रजिस्ट्री) कराई गयी, जिससेे रू0 101.69 ल़ाख   का राजस्व प्राप्त हुआ।
विज्ञप्ति जारी किये जाने तक वायु सेवा के माध्यम से जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट पर  पंहुचे 166 प्रवासी  व्यक्तियों को स्वास्थ्य जांच उपरान्त जनपद में क्वारेंटीन किया गया है। इसी प्रकार जनपद के जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट से विभिन्न प्रदेशों के 107 व्यक्तियों को गंतव्यों हेतु भेजा गया। विज्ञप्ति जारी किये जाने तक काठगोदाम से देहरादून रेलवे स्टेशन पर 202 व्यक्ति पंहुचे। इसी प्रकार देहरादून रेलवे स्टेशन से दिल्ली हेतु 233 तथा काठगोदाम हेतु 163 व्यक्ति गये। कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 34 काॅल प्राप्त हुई हैं,जिनमें सभी  काल पास हेतु  प्राप्त हुई।

लाॅक डाउन अवधि में सिविल सोसायटी व शासकीय विभागों द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्यों के दृष्टिगत आज
के कोरोना वाॅरियर-
कोरोना वाॅरियर (सिविल सोसायटी से)
फूड इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन आॅफ उत्तराखण्ड,
श्री अनिल मारवाहा,
कोर्डिनेटर,
लाॅकडाउन अवधि में जरूरत मदों को भोजन एवं खाद्यान सामग्री वितरित कर जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान किया गया।

कोरोना वाॅरियर (शासकीय विभाग से),
डाॅ0 अमित अग्रवाल,
चिकित्सक/नोडल अधिकारी क्वारेंटीन सेन्टर
क्वारेंटीन सेन्टर में दिये गये दायित्वों का कुशलपूर्वक निर्वहन कर रहें है।