हिमाचल सरकार जल्द स्कूलों में वेंडिंग मशीनें लगा छात्राओं को सेनेटरी नैपकिन बाँटने की योजना पर काम कर रही

शिमला : शिक्षा विभाग स्कूलों में ही छात्राओं को सेनेटरी नैपकिन मुहैया करवाने की दिशा में काम कर रहा, अब सभी सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं को सेनेटरी नैपकिन लेने के लिए बाहर शर्मिंदगी या झिझक का सामना नहीं करना पड़ेगा। स्कूलों में ही सेनेटरी वेंडिंग मशीनें लगाई जाएंगी। शिक्षा विभाग स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर इस योजना को चलाने जा रहा है। शिक्षा विभाग ने योजना की लॉंचिंग के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से समय मांगा है। अगले महीने से संभवत: यह योजना शुरू कर दी जाएगी। स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वास्थ्य विभाग के कई कार्यक्रम चले हुए हैं। यह पहला मौका है जब स्कूलों में सेनेटरी वेडिंग मशीनें लगाई जाएंगी।

शिक्षा विभाग स्कूलों में छात्रों के लिए वॉटर प्यूरीफायर भी लगाने पर विचार कर रहा शुद्ध पानी पिलाने के लिए अच्छी क़्वालिटी के वॉटर प्यूरीफायर्स (अल्ट्रा वाॅयलेट प्यूरीफायर्स) लगाने जा रहा है। इस योजना के लिए सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। करीब 18 करोड़ का यह पूरा प्रोजेक्ट हैं। निजी कंपनी स्कूलों में वॉटर प्यूरीफायर इंस्टॉल करेगी। राज्य में 15,351 प्रारंभिक और मिडल स्कूलों में वॉटर प्यूरीफायर्स लगाए जाएंगे। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को इस संबंध में निर्देश दिए थे। विभाग पिछले साल बजट न होने के चलते इस प्रोजेक्ट को सिरे नहीं चढ़ा पाया था। अब इसके लिए नए सिरे से प्रक्रिया शुरू की गई है। इन दोनों ही योजनाओं की लांचिंग एक साथ करने की तैयारी है। राज्य के सरकारी स्कूलों में अभी तक ज्यादातर छात्र पीने के लिए अपने घरों से पानी की बाेतल लेकर अाते हैं। स्कूलों में पानी की टंकियां लगी होती हैं, लेकिन फिल्टर की कोई व्यवस्था नहीं है।

जाने कैसे करती है ये वेंडिंग मशीने काम

महिला टीचरों को नोडल ऑफिसर बनाया जाएगा:स्कूलों में सेनेटरी नैपकिन के वितरण के लिए नोडल ऑफिसर बनाए जाएंगे। महिला टीचरों को ही ये जिम्मेदारी दी जाएगी। वे छात्राओं को जागरूक भी करेंगी। नेशनल हेल्थ मिशन के तहत विभाग ने यह कार्यक्रम शुरू किया है। आशा वर्करों के माध्यम से नैपकिन छात्राओं को मुहैया करवाए जा रहे हैं। ज्यादातर छात्राओं को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा था, इसलिए योजना का प्रारूप बदला जा रहा है।

योजना की लॉंचिंग के लिए सीएम से मांगा समय:शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा, स्कूलों में अगले महीने से दो योजनाएं शुरू की जा रही हैं। पहली छात्राओं को सेनेटरी नैपकिन मुहैया करवाने के लिए सैनेटरी वेंडिंग मशीनें लगाने की है। ये मशीनें हाई और सीनियर सेकंडरी स्कूलों में लगाई जाएंगी। दूसरी योजना साफ पानी पिलाने के लिए 18 हजार स्कूलों में वॉटर प्यूरिफायर लगेंगे। योजना की लॉंचिंग के लिए सीएम से समय मांगा गया है।