हेमंत सोरेन आज लेंगे झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री पद की शपथ

झारखंड विधानसभा चुनाव में जीत के बाद जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन के नेता हेमंत सोरेन 29 दिसंबर यानी आज रांची में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. रविवार को जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन मोरहाबादी मैदान में दो बजे शपथ ग्रहण के साथ ही वह प्रदेश के 11वें मुख्यमंत्री बन जाएंगे. राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाएंगे.

सोरेन के भव्य शपथ समारोह में देश के कई दिग्गज नेताओं और उद्योगपतियों सहित कई बड़ी हस्तियों को न्योता भेजा गया है. समारोह में शामिल होने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शनिवार की शाम रांची पहुंच गईं. हेमंत सोरेन ने उनके पैर छूकर और उन्हें शॉल भेंटकर उनका स्वागत किया.

शपथ ग्रहण में शामिल होने के लिए 30 अतिथियों ने अपनी सहमति दे दी है. सहमति देने वाले दिग्गजों में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रसिद्ध उद्योगपति रतन टाटा, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम सहित 6 राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्री और 5 पूर्व मुख्यमंत्री शामिल हैं. समारोह में ममता बनर्जी के अलावा कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ के सीएम भूपेश बघेल, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, शरद यादव, चंद्रबाबू नायडू , एम के स्टालिन, राज्यसभा के उपासभापति हरिवंश, कन्हैया कुमार, केसी वेणुगोपाल, आरपीएन सिंह, उमंग सिंघार, टीआर बालू, कनिमोझी, अब्दुल बारी सिद्दीकी, अहमद पटेल, हरीश रावत, निरंजन पटनायक, शिवानंद तिवारी, तेजस्वी यादव, जीतन राम मांझी, के बैजू, अजय शर्मा, तारिक अनवर, राम गोपाल अग्रवाल, विजय भाटिया, अखिलेश सिंह, अनिल शर्मा, मैनुल हक, मलय घटक सहित कद्दावर नेता शामिल होंगे.

हेमंत सोरेन के अलावा उनकी पार्टी जेएमएम से एक और गठबंधन में शामिल कांग्रेस से एक विधायक के मंत्री पद की शपथ लेने की संभावना है. सूत्रों के मुताबिक इसके बाद 14 जनवरी (मकर संक्रांति) के बाद यानी खरमास समाप्त हो जाने के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा. उस दौरान आरजेडी के एकमात्र विधायक को भी मंत्री बनाया जा सकेगा.

सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मोरहाबादी मैदान सहित रांची शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. रांची के उपायुक्त राय महिमापत रे ने बताया है कि बिना मान्यता, इजाजत या पास के किसी भी शख्स का मैदान में प्रवेश नहीं होगा. समारोह के दौरान अतिरिक्त पुलिस बल भी तैनात किए गए हैं.

हेमंत सोरेन ने इसे झारखंड के नव निर्माण का संकल्प दिवस कहा है. उन्होंने राज्य की सवा तीन करोड़ जनता से यह अपील की कि मोरहाबादी आइए और हम सब इसके साक्षी बनें. सोरेन ने देशभर से आ रहे गणमान्य नेताओं के प्रति भी विनम्रता पूर्वक आभार प्रकट किया है. प्रदेश सरकार ने भी जनता से इस समारोह में भाग लेने की अपील की है.