लॉकडाउन के दौरान भूखा होने का फर्जी वीडियो हुआ वायरल, सात गिरफ्तार

20

देहरादून, लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया में फर्जी वीडियो वायरल करने वाले सात लोगों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोप है कि इन लोगों ने ऋषिकेश के रोडवेज अड्डे में दस दिन से भूखा होने का फर्जी वीडियो वायरल कर अफवाह फैलाई। पुलिस इस तरह से अफवाह फैलाकर माहौल खराब करने वालों को भी चिह्नित कर रही है।

ऋषिकेश और आसपास क्षेत्र में ऋषिकेश रोडवेज अड्डे का एक वीडियो तेजी के साथ वायरल हुआ। इसमें दो लोग जमीन पर बैठे हैं और रो रहे हैं। यह कह रहे हैं कि हम दस दिन से ऋषिकेश में फंसे हैं और हमें खाना नहीं मिल रहा है। इनके समीप पांच लोग और अन्य खड़े हैं।

कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने बताया कि सोशल मीडिया के इस वायरल वीडियो को पुलिस ने संज्ञान लिया। मामले की जांच कराई गई तो पता चला कि यह वीडियो गुरुवार की सुबह रोडवेज बस अड्डे में एक वोल्वो के समीप बनाया गया है। पुलिस ने जांच करने के बाद सात लोगों को गिरफ्तार किया।

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों में एक नगर निगम का संविदा कर्मी दीपक है, जबकि रोडवेज कर्मचारी जगमोहन सिंह सहित वोल्वो स्टाफ दुष्यंत, धर्म सिंह,रघुवीर और चाय की ठेली लगाने वाले काला और अंकुश शामिल हैं। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ने बताया कि लॉकआउट का इन्होंने उल्लंघन किया है। उन्होंने फर्जी वीडियो वायरल कर समाज को भ्रमित करने का काम किया है। इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।