ऑक्सीजन संतुलन को बनाए रखने हेतु पर्यावरण संरक्षण आवश्यक : प्रो जोशी

हरिद्वार 13 जून (कुलभूषण)    कुलपति उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय प्रो0 सुनील कुमार जोशी के संयोजन में ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय के चिकित्सालय परिसर में एक वृहद वृक्षारोपण एवं स्व0 सुन्दरलाल बहुगुणा रूद्राक्ष वाटिका का उद्धाटन किया गया। जिसमें कोविड 19 गाईडलाइन का पालन करते हुए सामाजिक दूरी बनाते हुए ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय के सभी अधिकारी कर्मचारियों एवं पी जी स्कालरस ने प्रतिभाग किया। कुलपति प्रोफेसर सुनील जोषी ने कहा कि वर्तमान में कोविड 19 जैसी वैश्विक महामारी ने जनमानस को महसूस करा दिया है कि वातावरण में आक्सीजन कितनी महत्वपूर्ण है और आक्सीजन के संतुलन को बनाये रखने के लिए प्रकृति तथा पर्यावरण का संरक्षण आवश्यक है।

कुलसचिव प्रांेफेसर उत्तम षर्मा ने कहा कि विष्वविद्यालय के प्रत्येक अधिकारी कर्मचारी एवं छात्र छात्राओं को कम से कम 100 पौधे अवश्य रोपित करने चाहिए तथा पौधा रोपण के बाद उसके वृक्ष बनने तक पौधे की सिंचाई एवं सुरक्षा वृक्षारोपणकर्ता को स्वयं करनी होगी तभी वृक्षारोपण सही मायने में सफल होगा। ऋशिकुल परिसर परिसर निदेषक प्रोफेसर अनूप गक्खड़ ने कहा कि युवा पीढी़ ने कोविड संक्रमण काल के भय से घर को सुरक्षित बनाने हेतु अपने घरों एवं कार्यस्थल परिसरों में पौधा रौपण कर पर्यावरण संरक्षण की महत्ता को समझा है  जिससे सभी वृक्षा रौपण के लिये बढ चढकर भाग ले रहे है।

गुरूकुल परिसर निदेषक प्रोफेसर अरूण तिपाठी ने कहा कि पर्यावरण को बचाना आज के परिपेक्ष्य में बहुत जरूरी है। अतः हमें युद्ध स्तर पर पेड-पौधे लगाने हेतु विषेश अभियान चलाने की जरूरत है तभी हम और हमारा पर्यावरण सुरक्षित रह पायेगा। कार्यक्रम का संचालन करते हुए षरीर रचना विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफसर डा0 नरेष चैधरी ने कहा कि प्रकृति और मानव एक दूसरे के पूरक है और हम प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से प्रकृति पर आश्रित है। प्रकृति के वगैर हमारा अस्तित्व संभव नही है। पर्यावरण के संवर्धन के प्रति जनमानस को जागरूक होकर वातावरण को षुद्ध करने के लिये अधिक से अधिक वृक्षारौपण करना चाहिए। कार्यक्रम में डा डी सी सिंह डा ओ पी सिंह डा अजय गुप्ता डा सुमन मिश्रा डा अनिल वर्मा डा राजीव कुरेला डा0 प्रियंका रानी, चीफ फार्मासिस्ट जगपाल सिंह नेगी, समीर पाण्डेय, खीमानन्द भट्ट, मोहित मनोचा, सुदामा प्रसाद, के साथ प्रेस क्लब के अध्यक्ष राजेन्द्र गौस्वामी सचिव राजकुमार पूर्व अध्यक्ष दीपक नौटियाल तनुज वालिया आदि ने सहभागिता की।