इको ग्रुप द्वारा मुस्लिम बस्ती, डी एस नेगी कॉलोनी में कपड़े वितरण एवम स्वच्छता जागरूकता अभियान

देहरादून, यदि कोई निम्न आय वर्ग के लोगों की मलिन बस्तियों और उपनिवेशों में जाता है, तो कठोर वास्तविकता यह है कि कड़क सर्दी में गरीब तबके के पास आज भी गरम कपड़ों का अभाव है । इस कमी को आज इको ग्रुप ने जरूरतमंदों को गर्म कपड़े बांट कर नए साल में नेक कार्य से शुरुआत की और साथ ही स्वच्छता का जागरूकता अभियान भी चलाया। इस नेक काम के लिए इकोग्रुप को श्रीमती तरविंदर जॉली एवम डी एन ए से कपड़ों का सहयोग मिला।

तदोपरांत इकोग्रुप द्वारा देहरादून में स्वच्छता मुहिम को और गति देते हुए मुस्लिम बस्ती डी एस नेगी कॉलोनी में कूड़ा प्रबंधन में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए आज प्रातः काल अभियान चलाया और इसके निवासियों से स्वच्छता की तरफ आगे बढ़ने की दिशा में वेस्ट के सही निस्तारण से संबंधित पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की। यह अभियान वेस्ट वॉरियर देहरादून के सौजन्य से शुरू की गई मुहिम की कड़ी में भी है।

इको ग्रुप ने मुख्य रूप से सेग्रीगेशन ,सूखा ओर गीला कूड़े को पृथक कर प्लास्टिक वेस्ट से इको ब्रिक्स बनाने का आवाह्न कर सेग्रीगेशन और प्लास्टिक वेस्ट से इको ब्रिक्स बनाने के लिए प्रेरित किया। इस प्रयास से घर से निकलने वाला कूड़े में कमी आएगी, घर में सुखे कूड़े को अलग कर रिसाइकिल करने के लिए भेजा जा सकता है , पर्यावरण की रक्षा भी होगी और साथ साथ इको ब्रिक्स को उपयोग में लाकर बेंच, पेडेस्टल , स्टूल इत्यादि भी बनाये जाएंगे। इको ग्रुप की इस मुहिम में करीब 30 निवासियों के साथ बच्चों ने भी भाग लिया।

इन सब निवासियों को प्लास्टिक के ग़लत निस्तारण से संबंधित खतरों एवं इको ब्रिक्स द्वारा इसके सदुपयोग के बारे में विस्तार से इको ग्रुप के संस्थापक सदस्य भारत शर्मा, आशीष गर्ग, संजय भार्गव, अमित जैन एवं राकेश भारद्वाज द्वारा चर्चा की गई। प्रत्येक प्रेरित निवासियों ने इको ब्रिक्स बनाकर पर्यावरण संरक्षित करने का प्रण लिया। इस कार्यक्रम में मुस्लिम बस्ती से मोहमद याकूब, शाजिया , रादिया,साफिया , राकेश पाल , इत्यादि ने सक्रियता से भाग लिया