मुख्यमंत्री से मिली ‘गढ़भोज अभियान’ की टीम, सप्ताह में एक दिन समस्त सरकारी गैर-सरकारी कैन्टीनों एवं विद्यालयों में शुरू करने की रखी मांग

देहरादून, उत्तराखंड के पारम्परिक भोजन को पहचान व थाली का हिस्सा बनाने के लिये चलाये जा रहे ‘गढ़ भोज अभियान’ व मानव व वन्यजीवों के बीच बढे़ संघर्ष को कम करने के लिये चलाये जा रहे अभियान की सकारात्मक पक्ष सामने आने लगा है, इस क्रम में सार्थक पहल को लेकर बीज बम अभियान को सरकारी योजनाओं में शामिल करने के सन्दर्भ में यमनोत्री विधायक श्री केदार सिंह रावत के नेतृत्व में गढ़ भोज अभियान की टीम ने प्रदेश के मुखिया तीरथ सिंह रावत से मुलाकात की। टीम के द्वारा मुख्यमंत्री जी को हिमालय पर्यावरण जड़ी बुटी एग्रो संस्थान जाड़ी के द्वारा मनाये जा रहे ‘गढ़ भोज वर्ष 2021’ व बीज बम अभियान के बारे में जानकारी दी गई ।

द्वारिका प्रसाद सेमवाल के नेतृत्व में चलाये जा रहे इस सम सापेक्ष अभियान को संस्थान के द्वारा सरकार से गढ़ भोज को सप्ताह में एक दिन सभी विद्यालयों के मिड डे मील एवं समस्त सरकारी गैर-सरकारी कैन्टीनों में शुरू करने की मांग की गई | इसके साथ ही हर वर्ष 9 जुलाई से 15 जुलाई तक मनाये जाने वाले बीज बम अभियान को सरकारी स्तर पर मनाने की माँग की। इस पर मुख्यमंत्री जी ने सकारात्मक आश्वासन दिया। उत्तरकाशी जनपद के यमनोत्री विधायक ने कहा की संस्थान द्वारा चलाये जा रहे गढ़ भोज अभियान व बीज बम अभियान दोनों ही उत्तराखण्ड के आम जनमानस, खेती, स्वास्थ्य, आर्थिकी सुधारने के हित में है।

अन्त द्वारिका प्रसाद सेमवाल द्वारा मुख्यमंत्री जी को गंगोत्री विधायक श्री गोपाल रावत जी के द्वारा ‘कमद से कुश कल्याण सहस्रताल’ ट्रेक को ट्रेक आफ द ईयर में शामिल करवाने की सार्थक पहल की घोषणा के बारे में जानकारी दी गई अनुरोध किया गया कि उक्त ट्रेक को ‘ट्रेक आफ द ईयर’ में शामिल किया जाये |