देहरादून : कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी तेजी से हो रहा इजाफा

देहरादून। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच देहरादून में कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। रविवार को जिले में 11 नए कंटेनमेंट जोन बनाए गए। जबकि, एक कंटेनमेंट जोन को खत्म किया गया। कोरोना संक्रमित व्यक्ति पाए जाने पर प्रशासन ने बालाहिसार, टैगोर कॉलोनी, चंदर रोड, सुभाष रोड, बद्रीपुर माजरी माफी, बद्रीश विहार कॉलोनी, जैंतनवाला मार्ग, लखनवाला विकासनगर, सुद्धोवाला शक्ति विहार, जेल रोड सुद्धोवाला, ठाकुरपुर रोड विकासनगर को पाबंद कर दिया है।

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने उक्त सभी स्थानों पर उत्तराखंड आपदा प्रबंधन और महामारी एक्ट के तहत गाइडलाइन का पालन करने की अपील की है। उल्लंघन करने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने किसी प्रकार की आकस्मिक स्थिति और सहायता के लिए 112 पर कॉल करने की सलाह दी है। उधर, राजपुर रोड स्थित पीटीएस कॉलेज को 14 दिन का समय पूर्ण होने पर कंटेनमेंट जोन से मुक्त कर दिया गया है |

मसूरी से रेडियोलॉजिस्ट की हफ्ते में दो दिन लग को गांधी शताब्दी अस्पताल में ड्यूटी

गांधी शताब्दी अस्पताल परिसर में गर्भवती महिलाओं को अल्ट्रासाउंड के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसे देखते हुए महानिदेशालय के आदेश पर मुख्य चिकित्साधिकारी ने मसूरी उप चिकित्सालय के वरिष्ठ रेडियोलॉजिस्ट डॉ. यतेंद्र की हफ्ते में दो दिन (गुरुवार व शुक्रवार) को गांधी शताब्दी अस्पताल में ड्यूटी लगाई है। अस्पताल में नियमित रेडियोलॉजिस्ट डॉ. अखिल की मां का निधन होने के कारण वह छुट्टी पर लखनऊ गए हुए हैं। जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनोज उप्रेती ने बताया कि डॉ. अखिल कुछ दिन में लौटकर ड्यूटी ज्वाइन कर देंगे। जिससे गर्भवती महिलाओं को अल्ट्रासाउंड के लिए ज्यादा दिक्कत नहीं होगी।