रक्षामंत्री सिंह दशहरे पर्व पर करेंगे राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजा

14

नई दिल्ली।
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह दशहरे पर्व पर पहले राफेल फाइटर जेट के साथ फ्रांस में ही शस्त्र पूजा करेंगे। दशहरा का पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत है और भगवान राम द्वारा रावण वध के तौर पर मनाया जाता है। इसे देशभर में अनेक प्रकार से मनाते आए हैं। राजनाथ सिंह गृहमंत्री थे तब तक उन्होंने हर साल शस्त्र पूजा की। गत वर्ष राजनाथ सिंह ने बीएसएफ के जवानों के साथ बीकानेर में शस्त्र पूजा की थी। मिली जानकारी के अनुसार, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस में सबसे पहले राफेल फाइटर जेट में एक उड़ान भरेंगे। 8 अक्टूबर को ही वायुसेना दिवस भी है। इसी दिन राजनाथ सिंह बोर्डिओक्स के पास मेरिनैक में राफेल जेट रिसीव करेंगे। 9 अक्टूबर को राजनाथ सिंह वरिष्ठ वायुसेना अधिकारियों के साथ पेरिस जाएंगे।
उनके साथ वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर मार्शल एचएस अरोड़ा भी होंगे। राफेल फाइटर जेट को भारतीय जरूरतों के मुताबिक बदला गया है। इन बदलावों की कीमत करीब 1 बिलियन यूरो हैं। राफेल फाइटर को उड़ाने के लिए भारतीय वायुसेना के कुछ पायलटों को ट्रेनिंग दे दी गई है। इसके बाद अब ये सभी मिलकर वायुसेना के 24 और पायलटों को तीन अलग-अलग हिस्सों में भारतीय राफेल फाइटर जेट में ट्रेनिंग देंगे। इससे पहले नए एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने बताया था कि राफेल का शामिल होना देश और वायुसेना के लिए महत्वपूर्ण है। राफेल की तकनीक हमारे लिए गेम चेंजर साबित होगी।