कोरोनो अलर्ट : डरने की नहीं, सतर्क रहने की जरूरत : डाॅ. सरोज नैथानी

हरिद्वार, कोरोना वायरस को लेकर लोगों से सावधानी बरतने की सलाह देते हुए सीएमओ डाॅ. सरोज नैथानी कहा कि कोरोना वायरस से डरने की नहीं बल्कि सर्तक रहने ही आवश्यकता है। कोरोना वायरस को सावधानी से हराया जा सकता है। लोगों को भीड़भाड़ वाले इलाकों में जान से बचना चाहिए, किसी से हाथ न मिलाये, एक-दूसरे से दूरी बनाये रखे, सनेटाइजर का इस्तेमाल करें या पिफर हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोये, मुंह को ढक कर रखे या फिर मास्क का इस्तेमाल करे, खांसते वक्त मुंह पर रूमाल या पिफर अन्य चीज से ढके और अगर सम्भव हो कि घर पर ही रहे। सीएमओ डाॅ. सरोज नैथानी आज प्रेस क्लब हरिद्वार में पत्रकारों से रूबरू होकर लोगों को जागरूकता के लिए सलाह दे रही थी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों का पालन कर रहा है। भारत सरकार से उनको दो बार निर्देश दिये गये। जिनमें 13 मार्च को जो निर्देश जारी किये गये। उनमें सात देशों के नाम का उल्लेख किया गया। जिनके नागरिकों के सम्बंध् में जानकारी दी गयी थी। कहा गया था कि 13 मार्च को आने वाले जारी देशो के लोगों को दिल्ली एयरपोर्ट पर ही रोक कर उनको आइसोलेशन के लिए भेजा जाए। और जो 13 मार्च से पूर्व भारत में आ चुके है, उनका पता लगाकर उनको भी आइसोलेशन वार्ड में ले जाकर जारी प्रक्रिया का पालन कराया जाए। इतना ही नहीं भारत सरकार से 18 मार्च को एक ओर निर्देश जारी हुआ, जिसमें सात देशों के अलवा चार देशों के नामों को ओर जोडा गया। जिनके नागरिकों के सम्बंध् में वही प्रक्रिया अपनाने के निर्देश दिये गये। सीएमओ ने बताया कि कोरोना वायरस 10 साल के बच्चों सहित 60 साल के वृद्धो के लिए ज्यादा खतरनाक है। जिनको बचाकर रखना बहुत जरूरी है। आपातकालीन स्थिति को देखते हुए कुछ निजी हाॅस्पिटलों से भी सम्पर्क किया गया है, जरूरत पड़ने पर उनके हाॅस्पिटल का सहयोग भी लिया जाएगा। क्रिटीकल मरीजों के लिए निजी हाॅस्पिटल के वेटींलेटर सहित आईसीयू वार्ड का इस्तेमाल भी किया जाएगा। अब तक सिड़कुल के मेट्रो हाॅस्पिटल और रूड़की के आरोग्य हाॅस्पिटल का जायजा लेकर उनकी स्थिति का जायजा लिया गया है। जहां के प्रबंधन अधिकारी जिला प्रशासन को सहयोग करने के लिए तैयार है। अब तक उनके जानकारी में 23 वेटिलेटर है जोकि स्वास्थय विभाग को सहयोग के लिए तैयार है। जहां पर क्रिटीकल मरीजों या फिर कोरोना वायरस पोजिटीव पाये जाने वाले मरीजों को रखा जाएगा। उन्होंने जनता से अपील की हैं कि सावधानी रखे डरे नहीं, सर्तकता व सावधानी से ही कोरोना वायरस को हराया जा सकता है। प्रेसवार्ता के दौरान जिला सूचना अधिकारी श्रीमती अर्चना मौजूद रही।