कोरोना अलर्ट : ” भरपेट भोजन अभियान” उच्च शिक्षा मंत्री धनसिंह रावत की सार्थक पहल

27

श्रीनगर/देहरादून, कोरोना वाइरस के प्रकोप से पूरा देश जूझ रहा है, उत्तराखण्ड़ मभी इसने अपनी दस्तक दे दी, ऐसे में पूरे देश में हुये लॉक  डाउन के चलते गरीब और मजदूर तबके लिये रोटी का संघर्ष जारी है, 21 दिन के इस लॉक  डाउन का आज तीसरा दिन है, प्रदेश की राज्य सरकार इस समय लोगों को हर संभव मदद का आश्वासन दे रही है, परन्तु मेहनतकश दैनिक मजदूरी करने वाले और गरीब तबके के लिए सबसे बड़ी समस्या रोटी की है, ऐसे में सरकार के उच्च शिक्षा एवं सहकारिता मंत्री डाॅ धन सिंह रावत लीक से हट कर आम लोगों की मदद करने में जुटे हैं। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ धन सिंह रावत ने प्रदेश में एक नई पहल करते हुए ‘भरपेट भोजन अभियान’ शुरू कर दिया है

इस अभियान के तहत उन लोगों को भोजन कराने की व्यवस्था की गई है जो इस महासंकट के दौरान भूखे पेट सोने को मजबूर हैं। डाॅ रावत ने सबसे पहले श्रीनगर से ‘भरपेट भोजन अभियान’ की शुरूआत कर दी है। इस अभियान के तहत श्रीनगर में लगभग 500 लोगों ने भोजन कर डाॅ रावत का आभार जताया। वहीं डाॅ रावत का कहना है कि इस अभियान का मकसद उन लोगों को भोजन कराना है जो भूखें, असाहय और गरीब हैं। उन्होंने बताया कि भरपेट भोजन अभियान की शुरूआत हो चुकी है अब इसे विस्तार दिया जायेगा और सम्पूर्ण श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में भोजन की व्यस्था की जायेगी | ‘भरपेट भोजन अभियान’ डाॅ0 धन सिंह रावत की एक पहल है। कोरोना महामारी के चलते कई लोगों के सामने भोजन का संकट गहरा गया है। उनके पास न तो राशन है और न ही अन्य जरूरी चीजें जिससे वह अपना पेट भर सके। श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में कई ऐसे परिवार हैं जिनके पास भोजन की समुचित व्यवस्था नहीं हैं। ऐसे में उच्च शिक्षा एवं सहकारिता मंत्री ने अपने विधानसभा क्षेत्र में गरीब, असहाय, वृद्ध, बीमार और छात्रों के लिए ‘भरपेट भोजन अभियान’ शुरू कर दिया है। इस अभियान के तहत ऐसे लोगों को श्रीगनर में ‘अतिथि पैलेस’ में भोजन कराने की निःशुल्क व्यवस्था की गई है। जहां पर निर्धन, असहाय, बुजुर्ग लोग आ कर भरपेट भोजन कर सकते हैं। यह अभियान श्रीनगर से शुरू कर दिया गया है। इस अभियान को श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न ब्लाॅक एवं मंडलों में भी संचालित किया जायेगा।

उच्च शिक्षा मंत्री और श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक डाॅ धन सिंह रावत की नेक पहल की श्रीगर में खूब सराहना की गई। स्थानीय लोगों ने डाॅ धन सिंह रावत के इस फैसले स्वागत करते हुए कहा कि हमें अपने जनप्रतिनिधि पर गर्व है। जिन्होंने इस आपदा के दौरान गरीब, असहाय, बुजुर्गों और विशेषकर छात्रों का ख्याल रखा। ‘भरपेट भोजन अभियान’ को सफल बनाने के लिए स्थानीय लोगों ने भी डाॅ धन सिंह रावत का सहयोग करने की बात कही। वहीं अतिथि पैलेस में भोजन करने आये गरीबों ने डाॅ धन सिंह रावत का खूब अभार व्यक्त किया और कहा कि संकट की घड़ी में उन्होंने भोजन की व्यवस्था कर पुण्य का काम किया है। वहीं इस दौरान श्रीनगर में किराये के कमरों पर रह रहे छात्रों ने भी ‘भरपेट भोजन अभियान’ के तहत भोजन किया। छात्रों का कहना है कि उच्च शिक्षा मंत्री की पहल काबिलेतारीफ है। उन्होंने कहा कि जननेता सबसे पहले अपनी जनता का ख्याल रखता है। छात्रों का कहना है कि उच्च शिक्षा मंत्री की पहल का बिलेय तारीफ है अभियान से जुडे कार्यकर्ता प्रदेश के उच्च शिक्षा एवं सहकारिता मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत के ‘भरपेट भोजन अभियान’ को गरीबों, मजदूरों, असहाय, बुजुर्गों और छात्रों को पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं ने भी कमर कस दी है। क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे इसके लिए उचित व्यवसथा कर उन्हें भोजन स्थल तक पहुंचाया जा रहा है। कई लोग स्वयं भी भोजन स्थल तक पहुंच रहे हैं। जहां उन्हे भरपेट भोजन कराया जा रहा है। आाज इस अभियान के तहत 500 से लोगों को भोजन कराया गया। यह व्यवस्था स्थिति सामान्य होने तक बरकरार रहेगी। वहीं डाॅ धन सिंह रावत के निर्देश पर अदिति पैलेस में मंडल अध्यक्ष गिरीश पैन्यूली के संयोजन में यह अभियान संचालित किया जा रहा है। इस अभियान में सभी अहतियात बरते जा रहे हैं। भोजन करने वाले लोगों को हाथ धुला कर उचित दूरी पर बिठाया जा रहा है। साथ ही भोजन स्थल हो सैनेटाइज भी किया जा रहा है ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके।