भीमताल में महंगाई पर कांग्रेस का प्रदर्शन, पेट्रोल-डीजल और गैस के दामों में बढ़ोत्तरी पर सरकार का पुतला जलाया

(चंदन बिष्ट)

भीमताल/ नैनीताल,
उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आहवान पर भीमताल में कांग्रेस कमेटी ने बढ़ती महंगाई व बेरोजगारी के खिलाफ भाजपा सरकार का पुतला दहन किया। उनका आरोप था कि पेट्रोल,डीजल व रसोई गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि ने लोगों की अर्थव्यवस्था को बिगाड़ कर रख दिया है। वहीं प्रदेश के सीएम झूठे आंकडों को पेश कर जनता को गुमराह कर रहे है। उन्होंने आगाह किया कि यदि सरकार ने जल्द ही महंगाई पर नियंत्रण नहीं किया,तो प्रदेशव्यापी आंदोलन छेड़ा जाएगा।
बुधवार को जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल के आहवान पर भीमताल ब्लाक अध्यक्ष डीके डालाकोटी सहित कांग्रेसी मुख्य बाजार चौक पहुंचे और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर पुतला दहन किया।

 

उनका कहना था कि वर्तमन में पेट्रोल डीजल व रसोई गैस में बेतहाशा वृद्धि हुई है। जहां पहले गैस की सब्सिडी उपभोक्ता के खाते में ₹200 तक आती थी, वह 10 से ₹15 रुपये ही रह गई है।वहीं पूर्व सांसद महेंद्र पाल ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि धीरे.धीरे प्रदेश सरकार इसे भी खत्म कर देगी। प्रदेश की जनता पर आर्थिक संकट से जूझ रही है। इसके अलावा प्रदेश में लगातार बेरोजगारी चरम सीमा पर है। वहीं सीएम रोजगार के झूठे आंकड़े पेश कर जनता को गुमराह कर रहे है। पूर्व विधायक भीमताल दान सिंह भंडारी ने कहा कि महंगाई की वजह से महिलाओं के घर का बजट बिगड़ चुका है। खाद्य पदार्थों में सरसों व रिफाइंड के दामों में भी इजाफा हुआ है। अगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा सरकार को सबक सिखाने के लिए जनता तैयार बैठी हुई है।

कांग्रेस नेता भीमताल विधानसभा प्रभारी दीप चंद सती ने कहा कि उत्तराखंड में मुद्रास्फीति के खिलाफ देहरादून से लेकर हर विधानसभा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध किया है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में प्रदेश में गैस की कीमत 100 रुपये बढ़ गई हैं। पेट्रोल और डीजल की कीमत आसमान छू रही हैं। ऐसे में गरीब लोग दैनिक आवश्यक वस्तुएं नहीं खरीद सकते हैं। उन्होंने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस की लड़ाई आगे भी जारी रहेगी।
इस मौके पर नैनीताल जिला अध्यक्ष कांग्रेस सतीश नैनवाल पूर्व सांसद महेंद्र पाल भीमताल पूर्व विधायक दान सिंह भंडारी भीमताल विधानसभा प्रभारी दीपचंद सती नगर अध्यक्ष कांग्रेस डीके डालाकोटी व कई कांग्रेश के वरिष्ठ नेता मौजूद थे ।