प्रेमी युगल की मौत के बाद मेरठ में जमकर तोड़फोड़, सांप्रदायिक तनाव

सरधना थाना क्षेत्र के राधना गांव में गुरुवार शाम प्रेमी युगल ने सल्फास निगल लिया। अस्पताल ले जाते समय प्रेमिका की मौत हो गई। साढ़े तीन घंटे बाद उपचार के दौरान प्रेमी ने भी दम तोड़ दिया। युगल अलग-अलग संप्रदाय से था। क्षेत्र में तनाव फैल गया। कई थानों की पुलिस व आरआरएफ बुला ली गई। अंधेरा पसरते ही आसपास के गांवों के युवकों ने एकत्र होकर संप्रदाय विशेष के घरों पर हमला बोल दिया। जमकर तोडफ़ोड़ कर दी। एसएसपी व एसपी देहात भी मौके पर पहुंच गए। क्षेत्र में अफरातफरी के बीच प्रभावित इलाका सील कर दिया गया है।

राधना गांव निवासी 17 वर्षीय तनु नगर स्थित एक कालेज में कक्षा 11 की छात्रा थी। इसी गांव का 24 साल का युवक खालिद पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। गुरुवार शाम 4:45 बजे युवक छात्रा से मिलने उसके घर जा पहुंचा। छात्रा के छोटे भाई ने उन्हें एक साथ देख लिया। इससे भयभीत होकर प्रेमी युगल ने सल्फास निगल लिया। हालत बिगडऩे पर दोनों को सरधना के एक क्लीनिक में ले जाया गया। जहां छात्रा को मृत घोषित कर दिया, जबकि युवक को गंभीर हालत में कैलाशी अस्पताल में भर्ती कराया गया। रात 8:30 बजे युवक ने भी दम तोड़ दिया।

घटना के बाद आसपास के इलाके में तनाव और अफवाह फैल गई। रात करीब आठ बजे पड़ोसी गांव से एलान हुआ, जिसके बाद कई गांवों के युवा राधना पहुंच गए। सीओ सरधना संतोष कुमार सिंह ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनसे धक्का-मुक्की कर दी गई। इसके बाद युवकों ने संप्रदाय विशेष के घरों पर हमलाकर तोडफ़ोड़ कर दी। युवकों ने गांव के ही संप्रदाय विशेष के एक झोलाछाप की कार में भी तोडफ़ोड़ कर दी। उनका आरोप था कि छात्रा बच सकती थी, लेकिन झोलाछाप के बेटे ने उसे गर्म पानी पिलाने को कहा। पानी पिलाते ही उसकी मौत हो गई। एसपी देहात राजेश कुमार ने बताया कि जहर खाने से युगल की मौत हो गई। तनाव के मद्देनजर गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। माहौल बिगाडऩे वालों पर कार्रवाई की जाएगी।