बदल गया SBI ATM से कैश निकालने का नियम, अब OTP की होगी जरूरत, जानिए क्या है तरीका

नई दिल्ली, । SBI ATM Cash Withdrawal with OTP: भारतीय स्टेट बैंक (SBI) एटीएम से 10,000 रुपये से अधिक की नकदी निकालने का एक सुरक्षित तरीका दे रहा है। यह नई सुविधा 2020 की शुरुआत से चालू है और इसके जरिये ATM कार्डधार ओटीपी की मदद से नकद निकासी कर सकते हैं। इस सुविधा से ग्राहकों को प्रतिदिन सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक अनधिकृत लेनदेन से बचने में मदद मिलती है।

बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के जरिये कहा, ‘हमारे सभी एटीएम में 1 जनवरी 2020 से एक नया ओटीपी आधारित नकद निकासी सिस्टम प्रभावी है। रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक सभी एसबीआई एटीएम में अनधिकृत लेनदेन से खुद को सुरक्षित रखें।’

 

क्या है तरीका 

बैंक के अनुसार नकद निकासी से पहले ग्राहक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाता है। इससे ग्राहक सिंगल लेनदेन कर सकते हैं। यह सुविधा एसबीआई कार्डधारकों को अनधिकृत एटीएम नकद निकासी से बचाती है।ग्राहक जितनी राशि निकालना चाहता है एक बार जब वह उतनी राशि मशीन में दर्ज कर देता है तो एटीएम स्क्रीन पर ओटीपी नजर आता है। इसके बाद ग्राहक के नंबर पर आए ओटीपी को मशीन में डालना होता है।ओटीपी-आधारित निकासी सिस्टम के तहत, ग्राहक अपने रजिस्टर्ड नंबर से प्राप्त ओटीपी दर्ज किए बिना बैंक के एटीएम से 10,000 रुपये से अधिक नहीं निकाल सकता है। रात 8 बजे के बाद सुबह 8 बजे तक 10,000 रुपये से अधिक की नकद निकासी के लिए ग्राहक को अपने मोबाइल फोन पर प्राप्त डेबिट कार्ड पिन के साथ ओटीपी दर्ज करना होगा। यह सुविधा 1 जनवरी से सभी स्टेट बैंक के एटीएम में उपलब्ध है। गैर-एसबीआई एटीएम में ओटीपी आधारित निकासी उपलब्ध नहीं है।

1. SB ATM से कैश निकालने के लिए ग्राहकों को पिन नंबर के साथ एक ओटीपी भी डालना होगा. यह ओटीपी उनके द्वारा SBI में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा.

2. SBI की ओटीपी बेस्ड एटीएम विड्रॉल सुविधा केवल 10 हजार रुपये से अधिक की निकासी पर ही उपलब्ध होगा.

3. SBI ने इस सुविधा को इसलिए पेश किया है ताकि एसबीआई डेबिट कार्ड होल्डर्स को किसी भी संभावित स्किमिंग या कार्ड क्लोनिंग से बचाया जा सके. इस प्रकार वो फ्रॉड से बच सकेंगे.

4. हालांकि, एसबीआई ने यह भी साफ किया है यह सुविधा केवल एसबीआई एटीएम पर ही मिल सकेगा.