विकास कार्य ठप होने से खफा पूर्व मंत्री ने दी आंदोलन की चेतावनी

पूर्व मंत्री मातबर सिहं कंडारी ने लगाया रुद्रप्रयाग में विकास कार्य ठप होने का आरोप कहा उनके द्वारा धन उपलब्ध कराने के बाद भी अधर में लटके है कई मोटर मार्ग

(देवेन्द्र चमोली)
रुद्रप्रयाग- अपने कार्य काल में स्वीकृत विकास कार्यों का अब तक धरातल पर न उतरने से खफा पूर्व मंत्री मातबर सिहं कंडारी ने आन्दोलन का मन बनाया है । जिलाधिकारी को लिखे पत्र में उन्होंने लो.नि.वि. रुद्रप्रयाग पर आरोप लगाते हुये कहा कि उनके द्वारा रुद्रप्रयाग विधानसभा छैत्र में कई सड़के स्वीकृत करवायी गयी लेकिन आज तक उनका कार्य शुरु नहीं किया गया जिसके कारण कई गांव आज भी सड़क सुविधा से वंचित है।
रुद्रप्रयाग के पूर्व विधायक व पूर्व कैविनेट मंत्री मातबर सिहं कंडारी उनके द्वारा स्वीकृत मोटर मार्गों के निर्माण में हो रही देरी को लेकर लोक निर्माण विभाग रुद्रप्रयाग की कार्य प्रणाली से काफी नाराज हैं उन्होंने आरोप लगाया कि वर्षों पूर्व उनके द्वारा स्वीकृत मोटर मार्गों का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा अब तक शुरु न करना जनता के साथ अन्याय है जिसे अब बर्दास्त नहीं किया जायेगा।
जिलाधिकारी को लिखे पत्र में उन्होंने अपने कार्य काल में स्वीकृत सारी- विजराकोट, दानकोट-अरखुंड, पाल्ली-सिद्धसौड़ , कुमड़ी- बुडोली, उछोला- मथ्था गांव,गैठाणा-भितौली-सिरवाड़ी, जवाड़ी- काला पहाड़ , सेमलता-डुंगरा- सतनी, पंय्याताल-त्यूंखर , खांकरा-पौड़ीखाल बीरों-च्वींथ-चिनग्वाड़, खैड़ी- घंडियाल्का सहित लगभग दो दर्जनमोटर मार्ग को स्वीकृति व धन उपलब्ध कराया था इसके अलावा उनके द्वारा कोठगी मे घोलतीर मोटर पुल व घंघासू -डांगीखोड़ मोटर मार्ग पर नौगाड़ बरकंडी गदेरे मे मोटर पुल हेतु धन उपलब्ध कराया गया था लेकिन वर्षों बीत जाने के बाद भी लो.नि. वी द्वारा इनपर कार्य नहीं किया गया। उन्होने जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुये कहा कि यदि एक महीने के भीतर इन मोटर मार्गों सहित मोटर पुलों पर पर कार्य प्रारंभ नहीं किया गया तो वे जिला कलैक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन करेंगे ।