महंगाई भत्ते पर कैंची चलने के बाद, दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मियों को मिली बड़ी सौगात

नई दिल्ली, देश में चल कोरोना संकट के बीच महंगाई भत्ते (डीए) पर कैंची चलने के बाद केंद्रीय कर्मचारियों को दिवाली से पहले दो बड़ी सौगात मिली है। 30 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को दिवाली बोनस देने के बाद सरकार ने अब चाइल्ड केयर लीव पर बड़ा फैसला लिया है।

सिंगल पैरेंट्स को सरकार ने बड़ी राहत देते हुए फैसला लिया है कि पुरुष कर्मचारियों भी बच्चों की देखभाल के लिए चाइल्ड केयर लीव के लिए अप्लाई कर सकेंगे। सिंगल पैरेंट्स की स्थिति में महिला कर्मचारी को तो चाइल्ड केयर लीव का फायदा मिल ही रहा था लेकिन अब पुरुष कर्मचारियों को भी उतना ही फायदा दिया जाएगा। इसके साथ ही अकेले बच्चे की देखरेख करने वाले पुरुष सरकारी कर्मचारी ही इस सुविधा के पात्र हैं। सरकार ने साफ किया है कि सिंगल पैरेंट्स से सीधा संबंध गैर-शादीशुदा, विधुर और तलाकशुदा पुरुष कर्मचारी से है। इसके साथ ही सरकार ने यह भी साफ किया है कि कर्मचारी चाइल्ड केयर लीव पर होने के बावजूद लीव ट्रैवल कॉन्सेशन (एलटीसी) के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

सरकार ने चाइल्ड केयर लीव पर इस बड़े फैसले से पहले बोनस की सौगात देकर कर्मचारियों को खुश कर दिया है। सरकार ने विजयदशमी या दुर्गा पूजा के पहले ही 30 लाख नॉन गैजेटेड कर्मचारियों को 3737 करोड़ के बोनस का जारी कर दिया है |
प्रोडक्टिविटी लिंक्‍ड इंसेंटिव बोनस के तौर पर 2,791 करोड़ रुपये तो वहीं नॉन-प्रोडक्टिविटी लिंक्‍ड बोनस के तौर पर 906 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। वहीं दिवाली से पहले ही कर्मचारियों के लिए एलटीसी वाउचर स्कीम पेश की है। इसमें कर्मचारी छुट्टियों के बदले रेल या हवाई किराए के 3 गुना के बराबर वैल्यू का गुड्स या सर्विसेस खरीद सकते हैं |