कांग्रेस नेता धस्माना की दखल के बाद जागा चिकित्सालय प्रशासन, सर्जरी कर निकाला नौ दिन का मृत बच्चा

देहरादून, उत्तराखण्ड़ में चिकित्सा सेवाओं की हालत खराब है, राजधानी देहरादून के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल दून महिला चिकित्सालय में पिछले नौ दिनों से भर्ती उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ दीचली गांव की गर्भवती पूजा परमार का आज आपरेशन कर उसके गर्भ में मृत बच्चे को निकाल लिया गया। महिला की स्थिति स्थिर है व उसे आपरेशन के बाद वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। उत्तरकाशी जिला अस्पतॎल द्वारा उक्त महिला को बीते 3 मार्च को देहरादून के लिये रैफर किया गया था, 4 मार्च को उसके पिता ने उसे देहरादून के दून महिला चकित्सालय में भर्ती किया , दून अस्पताल को पहले दिन से मालूम था कि महिला के पेट में मृत बच्चा है किंतु उसका आपरेशन नहीं किया गया और आठ दिन बाद 12 मार्च को अस्पताल ने महिला को किसी हायर सेंटर ले जाने को कहा तो उसके परिजनों ने कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना से संपर्क किया । श्री धस्माना रात्रि में ही अस्पताल पहुंचे और सीएमओ, सीएमएस,जिलाधिकारी व दून मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉक्टर सियाना से मोबाइल पर सम्पर्क कर ह अस्पताल के रवैये पर गहरी नाराजगी जाहिर की व डॉक्टर सियाना से महिला के इलाज करने व तत्काल आपरेशन करने की मांग की। रात्रि से लेकर प्रातः आपरेशन होने तक श्री धस्माना अस्पताल प्रशासन से बात करते रहे और रात 11.30 बजे महिला का ऑपरेशन सफलतापूर्वक कर दिया गया। आपरेशन के वक्त अस्पताल में मौजूद श्री धस्माना को अस्पताल में भर्ती अन्य मरीजों के परिजनों ने घेर लिया और अस्पताल की अव्यस्थाओं की शिकायत करने लगे। चमोली जनपद के नगरासू निवासी खेम राज सिंह ने आक्रोशित हो कर बताया कि 6 मार्च को उनकी पत्नी रोशनी देवी यहां भर्ती हुई 9 मार्च को सिजेरियन से बच्चा हुआ डॉक्टरों ने कहा वेंटिलेटर चाहिए जो हॉस्पिटल में खाली नहीं है इसलिए प्राइवेट में ले जाओ। उन्होंने श्री धस्माना को बताया कि बच्चे को वह वैश्य नर्सिंग होम ले गए किन्तु 36 घण्टे बाद उसकी मृत्यु हो गयी। हॉस्पिटल की लापरवाही ने मेरी पहली संतान की जान ले ली वो बिलख पड़ा। कई अन्य मरीजों के तिमार दारों ने हॉस्पिटल स्टाफ के द्वारा पैसे मांगे जाने व दुर्व्यहवार की शिकायत की। श्री धस्माना ने लोगों को शांत कराया व उन्हें आश्वासन दिया कि वे हॉस्पिटल की दुर्दशा के खिलाफ आवाज़ उठाएंगे। श्री धस्माना ने मौके पर मौजूद एमएस डॉक्टर मनोज शर्मा से अस्पताल की स्थितियों पर गहरी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि स्थितियों सुधारिये वरना विरोध झेलने के लिए तैयार रहिए। श्री धस्माना के साथ कांग्रेस नेता ललित भद्री व नवीन रमोला मौजूद थे।