ईडी का ई-मेल मिलने के बाद शरद पवार बोले- पुलिस ने की अपील, न जाएं ईडी के दफ्तर

मुंबई,। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने पुलिस कमिश्नर संजय बार्वे की अपील के बाद अपना फैसला बदल लिया है। कमिश्नर ने शरद पवार से उनके घर जाकर मुलाकात की और उनसे ईडी दफ्तर ना जाने की अपील की। शरद पवार ने कहा कि सभी विपक्षी पार्टियां उनके साथ हैं और बैंक घोटाले से उनका कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा, मैं नहीं चाहता कि कानून व्यवस्था खराब हो, इसलिए ईडी दफ्तर नहीं जाने का फैसला किया है।

इससे पहले पवार ने धन शोधन मामले में शुक्रवार को ईडी कार्यालय में आने की बात कही थी। इसके कारण गुरुवार को ही पुलिस ने धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी थी तथा एक स्थान पर चार या उससे अधिक लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी लगा दी गयी थी। इसके साथ ही ईडी के कार्यालय से संबंधित बालार्ड एस्टेट थाना समेत सात अन्य थाना क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई थी।
गौरतलब है कि महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक में हुए 25,000 करोड़ के घोटाले के मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने पवार एवं उनके भतीजे अजीत पवार सहित करीब 70 नेताओं के विरुद्ध मामला दर्ज किया है। हालांकि ईडी की तरफ से बुधवार को ही स्पष्ट कर दिया गया था कि उसकी ओर से एनसीपी अध्यक्ष को कोई समन नहीं भेजा गया है।
राकांपा के कार्यालय में एक पुलिस दल स्निफर डॉग के साथ पहुंची थी। पुलिस अधिकारियों की एक टीम पवार के आवास पर भी थी। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अबू आसिम आजमी का कहना है कि भाजपा-शिवसेना चुनाव के दौरान इस तरह की कार्रवाई करके यह जताना चाहती हैं कि सिर्फ वही पाक-साफ हैं, बाकी सब भ्रष्ट हैं।