आम आदमी पार्टी में फिर घमासान, अब सुखपाल खैहरा व बलबीर फिर आमने-सामने : पंजाब

अपनी ही पार्टी में ज्यादा से ज्यादा रुतबे के लिए अपनी ही पार्टी में उलझी आम आदमी पार्टी में एक बार फिर से घमासान शुरू हो गया है। इस बार नेता प्रतिपक्ष सुखपाल सिंह खैहरा व पंजाब आप के सह प्रधान डाॅ. बलबीर आमने-सामने हैं। दोनों की लड़ाई ने गंभीर रूप धारण कर लिया है। खैहरा ने सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करके बलबीर पर आरोप लगाए हैं कि वह उनके खिलाफ पार्टी के अंदर दुष्प्रचार कर रहे हैं और कह रहे हैैं उन्होंने पैसे लिए हैैं। इसकी शिकायत उन्होंने पंजाब प्रभारी मनीष सिसोदिया से कर दी है।

खैहरा पिछले सप्ताह आप छोड़कर गये 16 नेताओं द्वारा पार्टी से इस्तीफा दिए जाने के मामले को लेकर पटियाला गए थे। एक कार्यकर्ता के आवास पर उन्होंने पार्टी के कुछ नेताओं के साथ मुलाकात की थी। इस मुलाकात को लेकर बलबीर ने खैहरा पर आरोप लगाए कि उन्होंने पैसे लेने शुरू कर दिए हैं और आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उम्मीदवारों के साथ भी अभी से सांठगांठ शुरू कर दी है।

खैहरा ने वीडियो में यह भी कहा है कि पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में उन्हें एक कार्यकर्ता ने अपनी बहन की शादी का कार्ड दिया था। जिन लोगों के सामने बलबीर ने कहा था कि खैहरा ने पैसे लेने शुरू कर दिए हैं उन्हीं में से एक ने खैहरा को भी सारी बातें बताईं और बलबीर का विरोध भी किया था।

इधर खैहरा ने वीडियो में कहा है कि पार्टी के अंदर ही कुछ लोग उनके खिलाफ दुष्प्रचार करके उनकी छवि खराब करने में लगे हैं। जबकि वो कई सालो से पंजाब में भरस्टाचार के खिलाफ लड़ रहे |

 

यह पहला मौका नहीं है जब खैहरा ने बेबाकी के साथ अपनी बात रखी है। इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने जब नशे के मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से लिखित में माफी मांगी थी, तो भी खैहरा ने केजरीवाल का खुलकर विरोध किया था। उससे पहले सुच्चा सिंह छोटेपुर को जब कन्वीनर के पद से हटाने की बात की गई तो खैहरा ने मांग की थी पंजाब में संगठन का स्वरूप बदला जाए। पंजाब के मामलों के फैसले पंजाब के नेता ही लें, दिल्ली की टीम की दखलंदाजी पंजाब में न हो। उसके बाद से ही खैहरा लगातार पार्टी में अकेले पड़ते जा रहे हैं।