पीएमजी डिजिटल दिशा कार्यक्रम में बड़ी संख्या में छात्रों ने प्रतिभाग किया

मसूरी। इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण परिवारों के लिए पीएमजी दिशा कार्यक्रम के तहत डिजिटल प्रशिक्षण कोर्स के तहत मसूरी मेब ड़ी संख्या में छात्र छात्राओं सहित युवक युवतियों ने भाग लिया व परीक्षा दी।

इस सबंध में जानकारी देते हुए सीएससी सेंटर से आई रितिका जैन ने बतया कि भारत सरकार ने ग्रामीण व आस पास के बच्चों को डिजिटलाइजेशन से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण योजना दिशा के तहत कोर्स आयोजित किए जाते है जिसके तहत मसूरी में इसकी परीक्षा दो दिनों तक चलेगी। इसमें प्रतिभाग करने वालों को अत्याधुनिक तकनीकि से जोड़ना है ताकि हर घर का डिजिटलाइजेशन हो सके। इसमें लिए पहले पंजीकरण किया जाता है व उसके बाद 11 दिनों तक कंप्यूटर प्रशिक्षण के साथ ही अन्य डिजिटल उपकरणों के बारे में जानकारी दी जाती है व उसके बाद परीक्षा होती है व उन्हें प्रमाण पत्र दिया जाता है।

इस संबंध में सेंटर के निदेशक कीर्ति कंडारी ने बताया कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना है ताकि हर भारतीय डिजिटल की जानकारी हासिल कर सके। इसके तहत यहा पर 11 दिनों तक बच्चों सहित 60 साल ने नीचे के लोगों को निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जाता है व उसके बाद परीक्षा लेकर उन्हें प्रमाण पत्र दिया जाता है ताकि उसका उपयोग व कहीं भी सरकारी या प्राइवेट नौकरी में कर सके। इसका उददेश्य बच्चों को डिजिटल की ओर जागरूक करना व उन्हंे अत्याधुनिक उपकरणों से अवगत कराना है ताकि बच्चे समय के साथ आगे बढ़ सके।