हिमाचल को केंद्र ने बारिश से निबटने के लिए राहत के तौर पर दिए 122 करोड़ रुपए : मुख्यमंत्री

41

शिमला: मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने शुक्रवार को बताया कि केंद्र ने बारिश से प्रभावित हिमाचल प्रदेश को पुनर्वास कार्यों के लिए प्रारंभिक मदद के तौर पर 122 करोड़ रुपए दिए हैं. उन्होंने बताया कि इस वर्ष मानसून के मौसम के दौरान राज्य को कुल 1,479 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है.

राज्य के अधिकारियों की एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए ठाकुर ने बताया कि 21 से 24 सितंबर के बीच भारी बारिश के दौरान हिमाचल को कुल 220.29 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है. जबकि 13 से 14 अगस्त के बीच भूस्खलन और बाढ़ के कारण कई सड़कों, बिजली और जल सेवाओं के क्षतिग्रस्त होने से 1,250 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ.

मुख्यमंत्री ने बताया कि पुर्नवास कार्य शुरू करने के लिए केंद्र ने पहली किस्त के तौर पर राज्य के लिए 122 करोड़ रुपए जारी किए हैं. उन्होंने बताया कि लाहौल घाटी में फंसे 1000 से अधिक लोगों को सुरक्षित रूप से बचाया गया.

मंडी के विभागीय आयुक्त विकास लबरू ने बताया कि लाहौल घाटी से कुल्लू जिले के बीच 30 विदेशियों सहित कुल 191 लोगों को भारतीय वायु सेना ने हेलीकॉप्टर के जरिए निकाला है. कई को सड़क मार्ग के जरिए भी निकाला गया है. उन्होंने बताया कि वायुसेना के हेलीकॉप्टर के जरिए शुक्रवार को एक ट्रांसफार्मर और 10 इलेक्ट्रीशियन बिजली बहाल करने के लिए लाहौल भेजे गए.

मुख्यमंत्री ने बताया कि बचाए गए लोगों को चिकित्सीय जांच के लिए भेजा गया है. वायुसेना के पांच हेलीकॉप्टर को भी फंसे हुए पर्यटकों और स्थानीय लोगों को निकालने के लिए तैनात किया गया है. उन्होंने बताया कि लाहौल और स्पीति जिलों में बड़ालाचा तक सड़क को जल्द साफ कर दिया जाएगा. लाहौल घाटी में जल्द से जल्द संचार सेवाएं बहाल करने के प्रयास भी जारी हैं.