मुनस्यारी में बादल फटा, घरों में घुसा पानी; मलबे में दबकर महिला की मौत

पिथौरागढ़। मुनस्यारी बंगापानी और धारचूला तहसील में बादल फटने से भारी बारिश ने तबाही मचाई। दानी बगड़ में हिमालया हाइड्रो का डैम टूट गया। इससे सड़क सहित तीन वाहनों के बहने की सूचना है। नदी और नाले उफान पर आ गए। सड़कें ध्वस्त हो गईं। मुनस्यारी बाजार जलमग्न हो गया। साथ ही दो मकान क्षतिग्रस्त हो गए। लोगों ने घरों से सुरक्षित स्थान पर भागकर जान बचाई। लोगों ने पूरी रात जागकर काटी। मदकोट क्षेत्र के गैला गांव में भारी भुस्खलन के दौरान मलबे में दबने से महिला की मौत हो गई।
भारी बारिश से सुरंगघाटी और जिमिगाड में दो पुल बह गए। यही नहीं मिलम रूट में धापा के पास पहाड़ी दरकने से सड़कें बंद हो गई। हिमनगरी के मध्य बहने वाला नाला उफान में आ गया। इसके आईटीबीपी के साथ ही हैलीपैड को जाने वाले मार्ग क्षतिग्रस्त हो गए। दर्जनों मकानों में मलबा और पानी घुस गया है।
मदकोट क्षेत्र में गैला गांव में लगातार बारिश के दौरान भारी भूस्खलन हुआ। इस दौरान पहाड़ी से आए मलबे में दबने से पचास वर्षीय महिला की मौत हो गई। महिला की पहचान नारायणी देवी पत्नी स्व नंदन सिंह के रूप में की गई। सूचना पर प्रशासन की टीम गांव के लिए रवाना हो गई।
मुनस्यारी में नगर की सड़कों पर नाले का पानी बह रहा है। लोग रात्रि एक बजे से जगे है। बंगापानी तहसील क्षेत्र में व्यापक तबाही मची है। आसमान लगातार बरस रहा है। गोरी नदी खतरे के निशान पर पहुंच चुकी है। लगातार जल स्तर बढ़ता जा रहा है।
मंदाकिनी सेरा ओर गोसी नदी का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। गोसी नदी का पानी बरम बाजार और सड़क पर बह रहा है। लोग मकान छोड़ कर बाहर खड़े है।
तीन दिनों से रुक रुक कर हो रही बारिश के बाद बीती रात्रि एक बजे से लगातार मूसलाधार वर्षा जारी है। सड़कें बद हो चुकी है। जौलजीबी में भी गोरी ओर काली नदिया खतरे के निशान पर पहुंच गई है। नदी किनारे की बस्तियों में हड़कंप मचा है।
उधर, धारचूला के मांगती घटिया बगड़ में भी तबाही की सूचना है। डीएम सी रविशंकर ने तीनों तहसीलों में आज खुलने वाले विद्यालय बंद करने के आदेश दे दिए है। मौके के लिए आपदा प्रबंधन टीम रवाना हो गई है।
मुनस्यारी ओर बंगापानी तहसील क्षेत्रो में बारिश का कहर जारी है। मुनस्यारी नगर में एसडीएम गेट बस स्टेशन का नाला बन्द होने से पानी ओवरफ्लो हो गया। यहां दो जेसीबी से स्थिति में सुधार का प्रयास किया जा रहा है।
बंगापानी के गोरी नदी पार मवानी दवानी की पहाड़ी दरकने से दहशत का माहौल बना हुआ है। मुनस्यारी में आफत की बारिश मुख्य बाजार के नाले चोक होने और एडीएम गेट के पास नाला चोक होने के कारण उफनाते नाले का पानी बस स्टेशन पैदल मार्ग होते हुए पूरे बाजार में बह रहा है।
बंगापानी तहसील के सेरा घाट के दानिबगड में हाइड्रो प्रोजेक्ट का बांध टूटने से, एक वाहन, पुल, मार्ग सहित काफी सामान बह गया। अन्य वाहनों और मशीनरी को खतरा बना है। प्रशासन आपदा प्रबंधन की टीम अभी तक मौके पर नहीं पहुंची।